ELECTION UPDATE TODAY

ELECTION UPDATE TODAY

चुनाव आयोग द्वारा चुनाव प्रकिया से सम्बंधित सभी प्रकार की जानकारी के लिए वेबसाइट पर बने रहें। पीठासीन अधिकारी के क्या कार्य होते है। मतदान अधिकारी प्रथम के कार्य। मतदान अधिकारी द्वितीय व तृतीय के कार्य। सांविधिक लिफाफा क्या होता है? असंविधिक लिफाफा व अन्य सभी प्रकार की जानकारी व मत्वपूर्ण pdf डाऊनलोड करें।

Pic credit the quint
निर्वाचन आयोग क्या है?

भारत निर्वाचन आयोग, जिसे चुनाव आयोग के नाम से भी जाना जाता है, एक स्वायत्त संवैधानिक निकाय है जो भारत में संघ और राज्य चुनाव प्रक्रियाओं का संचालन करता है।

यह देश में लोकसभा, राज्यसभा, राज्य विधानसभाओं, राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के चुनाव का संचालन करता है।

पृष्ठभूमि

भारतीय संविधान का भाग 15 चुनावों से संबंधित है जिसमें चुनावों के संचालन के लिये एक आयोग की स्थापना करने की बात कही गई है।

चुनाव आयोग की स्थापना 25 जनवरी, 1950 को संविधान के अनुसार की गई थी।

संविधान के अनुच्छेद 324 से 329 तक चुनाव आयोग और सदस्यों की शक्तियों, कार्य, कार्यकाल, पात्रता आदि से संबंधित हैं।

निर्वाचन आयोग के कार्य

चुनाव आयोग भारत में लोकसभा, राज्यसभा, राज्य विधानसभाओं, राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के चुनाव की संपूर्ण प्रक्रिया का अधीक्षण, निर्देशन और नियंत्रण करता है।

इसका सबसे महत्त्वपूर्ण कार्य आम चुनाव या उप-चुनाव कराने के लिये समय-समय पर चुनाव कार्यक्रम तय करना है।

यह निर्वाचक नामावली (Voter List) तैयार करता है तथा मतदाता पहचान पत्र (EPIC) जारी करता है।

यह मतदान एवं मतगणना केंद्रों के लिये स्थान, मतदाताओं के लिये मतदान केंद्र तय करना, मतदान एवं मतगणना केंद्रों में सभी प्रकार की आवश्यक व्यवस्थाएँ और अन्य संबद्ध कार्यों का प्रबंधन करता है।

यह राजनीतिक दलों को मान्यता प्रदान करता है उनसे संबंधित विवादों को निपटाने के साथ ही उन्हें चुनाव चिह्न आवंटित करता है।

निर्वाचन के बाद अयोग्य ठहराए जाने के मामले में आयोग के पास संसद और राज्य विधानसभाओं के सदस्यों की बैठक हेतु सलाहकार क्षेत्राधिकार भी है।

यह राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों के लिये चुनाव में ‘आदर्श आचार संहिता’ जारी करता है, ताकि कोई अनुचित कार्य न करे या सत्ता में मौजूद लोगों द्वारा शक्तियों का दुरुपयोग न किया जाए।

यह सभी राजनीतिक दलों के लिये प्रति उम्मीदवार चुनाव अभियान खर्च की सीमा निर्धारित करता है और उसकी निगरानी भी करता है।

महिला व पुरूष गणना शीट Male Female Counting Sheet Pdf

किसी भी चुनाव में महिला व पुरुषों की संख्या की गणना बहुत ही महत्वपूर्ण होती है। समय समय पर महिला व पुरुषों के मतों का सही से आंकलन हेतु शीट डाऊनलोड करें।

पंचायत चुनाव 2021

सभी प्रकार की मदद के लिए डाऊनलोड करें।

पीठासीन अधिकारी के उपयोग हेतु निर्देश पुस्तिका 2021

पंचायत निर्वाचन उत्तर प्रदेश 2021 पीठासीन अधिकारी के उपयोग हेतु निर्देश पुस्तिका का अवलोकन करें व समझे अपने कर्तव्य व अधिकार पढ़ने के लिए डाउनलोड करें।

सुबह मतदान प्रारंभ से पहले की स्थिति व प्रमुख कार्य

चेक लिस्ट मतदान से पहले के कार्य
मतपत्र को तैयार करना
पीठासीन अधिकारी मतपत्र के पीछे सुभेदक चिन्ह के नीचे हस्ताक्षर करे।
टिक√मतदान अभिकर्ताओं की नियुक्ति 6 से 6:30 तक करा लें।
मतदान अभिकर्ताओं को समय मतदान केंद्र पर बुला लें।
मतदान अभिकर्ताओं से प्रत्याशी के द्वारा जारी किया गया प्रपत्र 24 मांगें। (अनिवार्य)
जांच करें नियुक्ति पत्र आपके मतदान केंद्र का ही है।
दिये गये हस्ताक्षर के स्पेसीमैन कापी से प्रत्याशी / निर्वाचन अभिकर्ता के हस्ताक्षर का मिलान कर लें ।
नियुक्ति पत्र (प्रपत्र 24 ) की प्रविष्टियों को पूर्ण करें व मतदान अभिकर्ता से हस्ताक्षर कर लें।
प्रपत्र 24 मतदान अभिकर्ताओं की नियुक्ति को लिफाफे में सुरक्षित रख लें।
मतदान अभिकर्ताओं को पीठासीन अधिकारी अपनी हस्ताक्षर युक्त (परिशिष्ट-4 से 42 क्रमांक वाला) बैज दे।
मतपेटी तैयार करें 6:30 से 6:50 तक कर लें।
प्रत्याशी/अभिकर्ताओं को मतपेटी दिखा दें। आश्वस्त करें कि पतपेटी खाली है।
मतपेटी पर उसका क्रमांक डाले संबंधित (परिशिष्ट 4 क्रमांक 35,36) स्टीकर चिपकाएं।
मतपेटिका के अन्दर एक पते की पर्ची (परिशिष्ट 4 क्रमांक 34) डालें।
मतपेटिका को सील करने के लिये पेपर सील का प्रयोग करें।
पेपर सील के नम्बर को स्वयं नोट कर लें, यदि प्रत्याशी/उनके अभिकर्ता इसे नोट करना चाहे तो उन्हें भी नोट करा दें।
पेपर सील पर उपस्थित प्रत्याशी / उनके अभिकर्ता का हस्ताक्षर कराकर, पीठासीन अधिकारी भी हस्ताक्षर कर दें।
मतपेटिका के छिद्र में पेपर सील इस तरह से डालें कि उसका हरा वाला हिस्सा ऊपर की ओर दिखायी दे।
पेपर सील की सुरक्षा हेतु अन्दर से एक दफ्ती का टुकडा लगायें व लाख से सील करें।
मतपेटिका को बन्द करके लीवर को अस्थायी रूप से तार द्वारा बन्द करें ध्यान रखें मतपत्र डालने का छिद्र खुला रखें।
मतदान प्रारम्भ होने के घोषणा प्रपत्र-25 (परिशिष्ट-6) को भर लें।
प्रत्याशी या उनके अभिकर्ता जो मौके पर उपस्थित हो, उनके हस्ताक्षर करा ले।
मतपेटिका अब तैयार है, पूर्व में निर्धारित उचित स्थान पर रख दें।
सभी पदों के लिये मतपत्र एक ही मतपेटिका में डाले जायेगें।
मतपेटी के भर जाने पर उपरोक्त प्रकिया द्वारा द्वितीय मतपेटी तैयार करें।
द्वितीय मतपेटी का प्रयोग करने से पहले परिशिष्ट 7 (प्रपत्र 26) भर लें व अभिकर्ताओं से हस्ताक्षर करा लें।
मतदान समाप्ति के बाद
मतपेटी को अस्थायी से स्थायी रूप में लॉक करें।
लचीले तार से स्थायी रूप से बंधने के पश्चात पते की पर्ची भी छिद्र से बांध दें व सील करले।
मतपेटिका पर कोई प्रत्याशी या अभिकर्ता अपनी सील लगेगा चाहे तो लगा ले।
मतदान के अंत की घोषणा परिशिष्ट 18 प्रपत्र-37 पर करें। उपस्थित प्रत्याशी या अभिकर्ताओं से हस्ताक्षर करा लें।
मतपत्र लेखा तैयार करें।
प्रत्येक पद के लिए अलग अलग कई प्रतियों में मतपत्र लेखा तैयार करें।
मतपत्र लेखा की 1-1 प्रति मतपेटिका के ऊपर टैग करें।
सभी पदों के लिए मतपत्र लेखा की दूसरी प्रति लिफाफे में सुरक्षित रख लें।
अन्य प्रति मतदान अभिकर्ताओं को दे सकते हैं।
पीठासीन अधिकारी की घोषणा
मतदान के प्रारम्भ की घोषणा प्रपत्र-25
द्वितीय मतपेटी के प्रयोग की घोषणा प्रपत्र-26
मतदान के अंत को घोषणा प्रपत्र -37
***विशेष स्थिति मतदान के स्थगन की घोषणा प्रपत्र -34

चुनाव के मध्य की विशेष स्थिति

चुनाव के मध्य आनेवाली स्थितियों के प्रावधान
चुनाव के मध्य आनेवाली स्थितियों के प्रावधान
1- अभ्यक्षेपित चैलेंज मत
P1 संतुष्टि के बाद नाम बोलेगा और कुछ क्षण इंतजार करेगा आपत्ति ना आने पर स्याही लगा कर मत प्रक्रिया आगे बढ़ा देगा।
निर्वाचक नामावली में निशान व स्याही लगने के बाद आपत्ति पर विचार नहीं किया जाएगा।
P1 के द्वारा मतदाता नामावली से नाम पढ़कर बोलने के पश्चात आपत्ति जताई जाए।
पीठासीन अधिकारी अपने पास मामले को ले ले चुनाव जारी रहे।
आपत्तिकर्ता पीठासीन अधिकारी को नगद 5 ₹ जमा करें व रसीद प्रपत्र 28 (परिशिष्ट 9 ) दी जाए।
जिस व्यक्ति पर आपत्ति की गई है उसे ( धारा 171 घ ) भारतीय दंड विधान के बारे में बताएं।
यदि मतदाता हां बोले कि वो सही है तो आपत्तिकृत मतों की सूची प्रपत्र-29 (परिशिष्ट 10) में जानकारी दर्ज करें।
पीठासीन अधिकारी मतदाता व आपत्ति कर्ता (पक्ष – विपक्ष) दोनों को सुने व समझे तथा अपने स्तर से निर्णय लें।
यदि आपत्तिकर्ता सही हो व मतदाता गलत होयदि आपत्तिकर्ता गलत हो व मतदाता सही हो
थाना प्रभारी को शिकायत पत्र प्रपत्र -27 ( परिशिष्ट 8) भरें।मतदाता को मत डालने के लिए मतपत्र दें।
मतदाता को पुलिस के सुपुर्द करें।आपत्तिकर्ता की 5 ₹ धनराशि जब्त करलें।
आपत्तिकर्ता को 5 ₹ राशि वापस करदें व दी गयी रसीद वापस लें।जब्त की गई धनराशि उपयुक्त लिफाफे में रख ले।
इस घटना का उल्लेख पीठासीन अधिकारी अपनी डायरी में लिखे।
2 – निविदत्त मतपत्र Tender Vote
P1 द्वारा मतदाता नामावली सूची देखने के बाद पता चला हो कि उस क्रमांक के मतदाता का वोट पहले ही पड़ चुका है।
पीठासीन अधिकारी मामले को समझेगा और संतुष्ट के बाद यदि उसने लगता है कि अब आया हुआ मतदाता ही वास्तविक मतदाता है तो
पीठासीन अधिकारी निवेदक पत्र हेतु प्रपत्र 30 (परिशिष्ट 11) में मतदाता का नाम भरेगा।
मतपत्र की अंतिम गड्डी से अंतिम मतपत्र दे देगा।
मतदाता द्वारा मतपत्र का प्रयोग करने के पश्चात मतपत्र मत पेटी में नहीं डाला जाएगा।
पीठासीन अधिकारी मतपत्र को निवेदित मतपत्र लिफाफे में सुरक्षित रख लेगा।
प्रयोग हुए मतपत्र के प्रतिपर्ण को निवेदित मतपत्र प्रतिपर्ण के लिफाफे में रखें।
3 – दृष्टिबाधित या आसक्त मतदाता
आशक्त मतदाताओं की सहायता हेतु मतदाता साथी
मतदाता साथी 18 वर्ष से बड़ा हो।
मतदाता साथी मात्र एक बार ही किसी व्यक्ति का साथी बन सकता है।
दृष्टिबाधित या आशक्त मतदाता साथी को घोषणा प्रपत्र 32 ( परिशिष्ट 13) भरना होगा।
पीठासीन अधिकारी को साथी मतदाता का उल्लेख प्रपत्र 31 (परिशिष्ट 12) में कराना होगा।

कुल प्रयुक्त लिफाफों का वर्णन

लिफाफों का संक्षिप्त विवरण
कुल लिफाफों की संख्या 46
11″×16″ =9 हल्का पीला लिफाफाहo युक्त मतपत्र(4), हo बिना मतपत्र(4), रसीद बुक व धनराशि(1)
11″×6″ =4 हल्का हरा लिफाफाउपयोग में न लायेगये मतपत्र के प्रतिपर्ण (4)
9″×11″ =2 गुलाबी लिफाफानिर्वाचक नामावली की चिन्हित प्रति(1), निर्वाचक नामावली की अन्य प्रति(1)
9″×4″ =31 हल्का नीला लिफाफानिविदत्त मतपत्र(4), निविदत्त मतपत्र सूची(4), रद्द या वापस किये गए मतपत्र(4), मतपत्र लेखा(4), एजेंट नियुक्ति(4), मतदान प्रकिया के उल्लंघन से रद्द मतपत्र (4), अन्य (4),
अप्रयुक्त पेपरसील मोटा कागज(1), पेपरसील लेखा(1), पीठासीन अधिकारी की डायरी(1)
1 सांविधिक लिफाफा -सीलबन्द
लिफाफा का sizeसभी लिफाफे (29)
9″×11″निर्वाचक नामावली की चिन्हित प्रति का सीलबन्द लिफाफा
11″×6″प्रयुक्त मतपत्र के प्रतिपर्ण का सीलबन्द लिफाफा
9″×4″प्रयुक्त निविदत्त मतपत्र के प्रतिपर्ण का सीलबन्द लिफाफा
11″×16″प्रतिपर्णों सहित अप्रयुक्त (हस्ताक्षरित) मतपत्र का सीलबन्द लिफाफा
11″×16″प्रतिपर्णों सहित अप्रयुक्त (बिना हस्ताक्षरित) मतपत्र का सीलबन्द लिफाफा
9″×4″निविदत्त मतपत्र एवं सूची पत्र( प्रपत्र 30 ) का सीलबन्द लिफाफा
9″×4″मतदान प्रक्रिया के उल्लंघन के कारण रद्द किए गये मतपत्र का सीलबन्द लिफाफा
9″×4″अन्य कारण से रद्द किए गये मतपत्र का सीलबन्द लिफाफा
2 असांविधिक लिफाफा
लिफाफे का sizeसभी लिफाफे (10)
9″×11″निर्वाचक नामावली की प्रतियों (चिन्हित प्रति से भिन्न) का लिफाफा
9″×4″मतदान अभगिकर्ताओं की नियुक्त पत्र (प्रपत्र-24) का लिफाफा
9″×4″अपत्तिकृत मतों की सूची (प्रपत्र-29) हेतु लिफाफा
9″×4″मतदान ड्यूटी प्रमाणपत्र (प्रपत्र – 39) हेतु लिफाफा
9″×4″दृष्टिबाधित और अशक्त मतदाताओं की सूची (प्रपत्र-31) व उनके साथियों की घोषणायें (प्रपत्र-32)
9″×4″निर्वाचकों से उनकी आयु के सम्बन्ध में प्राप्त की गयी घोषणायें (प्रपत्र-33) व सूची का लिफाफा
11×16आपत्ति किये गये मतों के सम्बन्ध में रसीद बही और नकदी (प्रपत्र-28) का लिफाफा
9″×4″अप्रयुक्त और क्षतिग्रस्त पत्र मुद्राओं का लिफाफा
9″×4″अवशेष पत्र मुद्राओं का लिफाफा
9″×4″पीठासीन अधिकारी की अन्य घोषणाओं संबधी लिफाफा
3 सामान्य लिफाफा3 सामान्य लिफाफा
लिफाफा का sizeसभी लिफाफे (7)
9″×4″मतपत्र लेखा
9″×4″पीठासीन अधिकारी की डायरी
9″×4″अप्रयुक्त पेपरसील मोटा कागज
9″×4″पेपरसील लेखा

सांविधिक व असांविधिक लिफाफों पर चिपकाने के लिए प्रिंटेड शीट

1 सांविधिक लिफाफा

1निर्वाचक नामावली की चिन्हित प्रति का सीलबन्द लिफाफा
2प्रयुक्त मतपत्र के प्रतिपर्ण का सीलबन्द लिफाफा
3प्रयुक्त निविदत्त मतपत्र के प्रतिपर्ण का सीलबन्द लिफाफा
4प्रतिपर्णों सहित अप्रयुक्त (हस्ताक्षरित) मतपत्र का सीलबन्द लिफाफा
5प्रतिपर्णों सहित अप्रयुक्त (बिना हस्ताक्षरित) मतपत्र का सीलबन्द लिफाफा
6निविदत्त मतपत्र एवं सूची पत्र( प्रपत्र 30 ) का सीलबन्द लिफाफा
7मतदान प्रक्रिया के उल्लंघन के कारण रद्द किए गये मतपत्र का सीलबन्द लिफाफा
8अन्य कारण से रद्द किए गये मतपत्र का सीलबन्द लिफाफा

2 असांविधिक लिफाफा

1निर्वाचक नामावली की प्रतियों (चिन्हित प्रति से भिन्न) का लिफाफा
2मतदान अभगिकर्ताओं की नियुक्त पत्र (प्रपत्र-24) का लिफाफा
3अपत्तिकृत मतों की सूची (प्रपत्र-29) हेतु लिफाफा
4मतदान ड्यूटी प्रमाणपत्र (प्रपत्र – 39) हेतु लिफाफा
5दृष्टिबाधित और अशक्त मतदाताओं की सूची (प्रपत्र-31) व उनके साथियों की घोषणायें (प्रपत्र-32)
6निर्वाचकों से उनकी आयु के सम्बन्ध में प्राप्त की गयी घोषणायें (प्रपत्र-33) व सूची का लिफाफा
7आपत्ति किये गये मतों के सम्बन्ध में रसीद बही और नकदी (प्रपत्र-28) का लिफाफा
8अप्रयुक्त और क्षतिग्रस्त पत्र मुद्राओं का लिफाफा
9अवशेष पत्र मुद्राओं का लिफाफा
10पीठासीन अधिकारी की अन्य घोषणाओं संबधी लिफाफा
Spread the love

Leave a Reply