E PATHSHALA PHASE | ई-पाठशाला फेज

E PATHSHALA PHASE | ई-पाठशाला फेज

डिजिटल इंडिया अभियान ने शिक्षण सीखने की प्रक्रिया में आईसीटी के व्यापक उपयोग को बढ़ावा दिया है। ई-पाठशाला, शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार व राज्य सरकार की एक संयुक्त पहल है। भारत सरकार और राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) को छात्रों, शिक्षकों के लिए पाठ्यपुस्तकों, ऑडियो, वीडियो, पत्रिकाओं, और कई अन्य प्रिंट और गैर-प्रिंट सामग्री सहित सभी शैक्षिक ई-संसाधनों को प्रदर्शित और प्रसारित करने के लिए विकसित किया गया है।

बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा अप्रैल 2020 से ही मिशन प्रेरणा की ई-पाठशाला (Mission Prerna e-pathshala phase 1, 2, 3, 4 and 5) कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है | इस कार्यक्रम के माध्यम से पहले,दूसरे, तीसरे और चौथे चरण में विभिन्न माध्यमों ( जैसे – आकाशवाणी, दूरदर्शन, WhatsApp , प्रेरणा साथी आदि के द्वारा अभिभावकों / बच्चों तक शैक्षणिक सामग्री पहुचायी गयी| विभाग द्वारा सभी बच्चों तक पहुँच सुनिश्चित करने के लिए मिशन प्रेरणा की ई-पाठशाला 5.0 नयी गतिविधियों के साथ प्रारम्भ किया जा रहा है|

प्रेरणा साथी की पहचान एवं कार्य

कोविड-19 महामारी के कारण बच्चों की ऑनलाइन शिक्षा की निरन्तरता को बनाये रखने के उद्देश्य से प्रेरणा साथी के रूप में स्वैच्छिक सहायता देने के लिए चुना जाना है | ऐसे व्यक्ति बच्चे के निकट रिश्तेदार , पडोसी या स्कूल / समुदाय के 12 वर्ष से अधिक आयु के हो सकते हैं | जिनकी शिक्षा क्षेत्र में रूचि हो तथा जिनके पास स्वयं का स्मार्टफोन एवं इन्टरनेट सुविधा उपलब्ध हो | ऐसे व्यक्तियों को प्रधानाध्यापक द्वारा प्रेरणा साथी से प्रेरणा लक्ष्य एप, रीड एलोंग एप एवं दीक्षा एप इंस्टाल करने हेतु अनुरोध किया जाएगा|

प्रेरणा साथी द्वारा राज्य स्तर से प्रेषित साप्ताहिक शैक्षणिक सामग्री अपने आस-पास / मोहल्ले के बच्चों को को WhatsApp के माध्यम से बच्चों के साथ साझा करेंगे | विद्यालय के शिक्षक, प्रेरणा साथी से समन्वय बनाते हुए बच्चों की पढ़ाई में आने वाली समस्याओं को दूर करने का प्रयास करेंगे|

बच्चों द्वारा प्रतिदिन 20 मिनट तक प्रेरणा लक्ष्य एप एवं दीक्षा एप का प्रयोग करते हुए अभ्यास कार्य कराया जाना है | प्रेरणा साथी द्वारा प्रत्येक शनिवार को आयोजित होने वाली बच्चों की साप्ताहिक क्विज़ प्रतियोगिता हेतु सहयोग किया जायेगा|

प्रेरणा साथी का पंजीकरण करने के लिए यहाँ क्लिक करें |

Mission Prerna ki E PATHSHALA PHASE | ई-पाठशाला फेज 5

मिशन प्रेरणा की ई-पाठशाला फेज 5.0 के क्रियान्वयन हेतु 03 जुलाई को विस्तृत निर्देश जारी किए गए हैं |

शैक्षणिक सामग्री का प्रेषण –

ई- पाठशाला के सञ्चालन हेतु राज्य स्तर से कक्षावार एवं विषयवार शैक्षणिक सामग्री प्रत्येक रविवार को सुबह 10 बजे WhatsApp ग्रुप के माध्यम से प्रेषित की जायेगी | जिसे शिक्षक अभिभावकों, प्रेरणा साथी और बच्चों के WhatsApp ग्रुप पर साझा की जायेगी|

प्रत्येक शनिवार को Whatsapp के माध्यम से साप्ताहिक क्विज प्रतियोगिता सम्बन्धी सामग्री प्रेषित की जायेगी |

मोहल्ला कक्षाओं का संचालन

  • कोविड-19 प्रोटोकाल का अनुपालन सुनिश्चित करते हुए प्रेरणा साथी के सहयोग से शिक्षकों द्वारा मोहल्ला कक्षाओं का संचालन किया जाना है | मोहल्ला कक्षाओं के प्रभावी संचालन हेतु निर्देश निम्नवत हैं –
  • प्रधानाध्यापक द्वारा ग्राम प्रधान, विद्यालय प्रबंध समिति के सदस्यों एवं अभिभावकों से अपेक्षित सहयोग प्राप्त करते हुए मोहल्ला कक्षाओं के संचालन के लिए सार्वजनिक स्थान जैसे- पंचायत भवन, ग्राम सचिवालय, खेल का मैदान इत्यादि का निर्धारण किया जाए |
  • मोहल्ला कक्षाओं के संचालन के समय बच्चों को कोविड प्रोटोकाल के नियमों का पालन करते हुए बैठाकर पठन-पाठन कराया जाना है तथा राज्य स्तर से प्रेषित सामग्री बच्चों , उनके अभिभावकों और प्रेरणा साथी के साथ साझा की जायेंगी |
  • बच्चों को शिक्षण योजना के अनुसार गतिविधियाँ कराई जाएँ तथा उनकी दिनचर्या से सम्बंधित क्रियाकलाप विषयवस्तु पर आधारित कार्य, अभ्यास-कार्य आदि कराये तथा इसका डॉक्यूमेंटेशन भी किया जाय |
  • विद्यालय के सभी शिक्षकों द्वारा गाँव में शिक्षण कार्य के पश्चात विद्यालय आकर प्रतिदिन के कार्यों , प्रक्रिया, समस्याओं पर चर्चा करके अगले दिन के लिए कार्ययोजना बनायीं जाए |
  • विभाग द्वारा उपलब्ध कराई गई ई- लर्निंग सामग्री, पोस्टर्स एवं दूरदर्शन पर प्रसारित शैक्षणिक सामग्री तथा वीडियो के साथ-साथ बच्चों की पाठ्यपुस्तकों एवं कार्यपुस्तिकाओं को शिक्षण कार्य में सम्मिलित किया जाए |
  • जिन अभिभावकों द्वारा बच्चों को मोहल्ला कक्षाओं में नहीं भेजा जा रहा हैपारी अथवा उन्हें अनियमित रूप से भेजा जा रहा है , ऐसे परिवारों को चिन्हित किया जाय तथा होम विजिट के माध्यम से उनकी काउंसलिंग कराते हुए मोहल्ला कक्षाओं में बच्चों की प्रतिभागिता सुनिश्चित कराई जाये|

ई-पाठशाला फेज-5 के दौरान शिक्षक की भूमिका

  • बच्चों को शैक्षणिक सामग्री नियमित रूप से प्राप्त हो सके , इस हेतु शिक्षक और प्रेरणा साथी के द्वारा अभिभावकों की प्रभावी सहभागिता सुनिश्चित की जाये|
  • शिक्षक आवश्यकता अनुसार ऑफलाइन/ऑनलाइन प्रेरणा साथी से बात करके ई-पाठशाला के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु कार्ययोजना तैयार करेंगे | जैसे- बच्चों के सामने किस प्रकार की चुनौतियां हैं , कंटेंट की समय से उपलब्धता आदि|
  • प्रधानाध्यापक द्वारा विद्यालय में कार्यरत सभी शिक्षकों/शिक्षा मित्रों/अनुदेशकों के मध्य बच्चों का कक्षावार अथवा संख्यात्मक विभाजन सुनिश्चित किया जाये|जिससे कि सभी बच्चों के अभिभावकों से संपर्क स्थापित किया जा सके|अभिभावकों से संपर्क के दौरान बच्चों की पढ़ाई की समीक्षा और अध्ययन से सम्बंधित समस्याओं का निराकरण एवं बच्चों को विषय से सम्बंधित पाठों के बारे में जानकारी प्रदान की जाये|
  • बच्चों द्वारा किये गए अभ्यास कार्य को शिक्षक WHATSAPP के माध्यम से प्राप्त कर बच्चो की प्रगति से अभिभावकों को अवगत करायेंगे|
  • प्रतिदिन अभिभावकों से एवं बच्चों से किस विषय पर वार्ता करनी है उसकी कार्ययोजना शिक्षकों/शिक्षामित्रों द्वारा पूर्व में ही ‘शिक्षक डायरी’ में तिथिवार अंकित की जाये|
  • आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका एवं समृद्ध हस्तपुस्तिका में दी गयी शिक्षण विधा को कार्ययोजना में सम्मिलित किया जाये|
  • अभिभावकों एवं बच्चों को दीक्षा एप पर उपलब्ध ऑडियो – विजुअल शिक्षण सामग्री के सम्बन्ध में पाठ्यपुस्तकों में दिए गए QR कोड को स्कैन करके अध्ययन हेतु प्रेरित किया जाय| इसके साथ ही अभिभावकों को “प्रेरणा लक्ष्य” एवं “प्रेरणा सूची” के बारे में पूर्ण जानकारी दी जाए|
  • मिशन प्रेरणा की ई-पाठशाला की आउटरीच बढ़ाने एवं प्रभावी क्रियान्वयन हेतु नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों, सभासद, वार्ड के सदस्यों एवं विद्यालय प्रबंध समिति के सदस्यों से भी सहयोग प्राप्त किया जाए|
Spread the love

Leave a Reply